RAJA BHAIYA NEW PARTY



जैसे जैसे २०१९ चुनाव नजदीक आ रहे है वैसे वैसे राजनितिक पार्टिया एक बार फिर से चुनाव में अपना दम ख़म जुटाने में लगी हुई है  बात करे प्रधानमंत्री की कुर्सी का तो कहा जाता है की जिसने UP फैतेह कर लिया वही प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठेगा शायद यही कारन है की भारतीय जनता पार्टी की मोदी सरकार की UP पर खास नजर है लेकिन अब सारे राजनितिक पंडितो के समीकरण बिगड़ने वाले है क्यों शिवपाल यादव के बाद प्रतापगढ़ से कुंडा के निर्दलीय विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ़ रजा भईया अपनी नै पार्टी का ऐलान कर सकते है !

नयी पार्टी बनाने के जो कुछ कारन है सामने रहे है उसमे से पहला

 1. राज्यसभा चुनाव के दौरान वोटिंग को लेकर सपा 

2. भारतीय जनता पार्टी में आये नए चेहरों से रजा भईया की नजदीकिय ख़त हुई जिसको लेकर इस बार मंत्रिमंडल में भी जन्गाह न मिलने से नाराज

3. सक/सत ACT को लेकर सरकार से नाराजगी साफ़ दिखाई देती है और सवर्ण वोटरों का बीजेपी से भिखराव पर रजा भईया इन्हें अपने पीला में लाना चाहते है

4. 25 सालो से निर्दलीय चुनाव जितने से प्रदेश स्तर पर  जनता के बीच बड़े उनके क्रेज को रजा भईया नयी पार्टी बनाकर बरक़रार रखना चाहते है क्यों की कहा जाता है रजा भईया के समर्थक पुरे प्रदेश है

5. जिस तरह से आज के समय में राजनीती पूरी जाती पर निर्भर हो गयी है उससे ये कहना लगत नहीं होगा की रजा भईया भी उत्तर प्रदेश में ठाकुरों के वोटो को हर हाल में अपने पाले में लाना चाहते है !

6.



Related Posts
Latest